Translate

Digital Marketing in Hindi - डिजिटल मार्केटिंग

मेरे डिजिटल मार्केटिंग (Digital Marketing in Hindi) लेख में आपका स्वागत है। मैं यहां आपके साथ डिजिटल मार्केटिंग के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में साझा करूंगा। जिसमें आपको पता चल जाएगा कि डिजिटल मार्केटिंग क्या है और डिजिटल मार्केटिंग कैसे करें।
Digital Marketing
Digital Marketing in Hindi

Digital Marketing in Hindi

आज मैं आपसे इन सभी सवालों और विषयों पर बात करूंगा। जिनका उल्लेख हमेशा डिजिटल मार्केटिंग में किया जाता है। दोस्तों, मुझे जितना डिजिटल मार्केटिंग के बारे में पता है। मैं इस लेख के माध्यम से उस संपूर्ण ज्ञान को आपके साथ साझा करने का प्रयास करूंगा। अगर इस लेख में डिजिटल मार्केटिंग के बारे में कुछ लिखा जाना बाकी है। वह भी भविष्य में पूरा हो जाएगा।

चलिए अब शुरू करते हैं दोस्तों। सबसे पहले हम जानते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग को इंटरनेट मार्केटिंग भी कहा जाता है। इसका उद्देश्य केवल ऑनलाइन सेवाओं और उत्पादों को बढ़ावा देना है। 

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार

डिजिटल मार्केटिंग करने के 2 तरीके हैं। पहला ऑनलाइन (online) है और दूसरा ऑफलाइन (offline) है।

ऑन-लाइन (On-line) डिजिटल मार्केटिंग कैसे करें

अगर हम बात करें कि ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग में क्या है। जो हमें करना है। यह कुछ इस तरह है।

1 कंटेंट राइटर (content writer); आपके अंदर लेखन कौशल होना चाहिए। आप सेवाओं और उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए कुछ लिख रहे हैं। आपको शब्दों को इस तरह जोड़ना होगा। ताकि उपयोगकर्ता आपसे प्रभावित हो। यदि आप उत्पादों और सेवाओं की डिजिटल मार्केटिंग कर रहे हैं। फिर आप स्वयं इसके बारे में कुछ लिख पढ़ सकते हैं। इस सामग्री की लंबाई सोशल मीडिया 100 से 150 शब्दों तक हो सकती है और ब्लॉग के भीतर इसकी सीमा 500 से 5000 शब्दों तक है।

2 कॉपी राइटर (copy writer) - कॉपी राइटर का उद्देश्य किसी की मूल सामग्री को कॉपी करना है। लेकिन आपको इसे थोड़ा अनुकूलित करना चाहिए। जो सामग्री की नकल करेगा और अद्वितीय (unique) भी होना चाहिए।

3 खोज इंजन अनुकूलन (search engine optimisation) - आपको SEO के बारे में ज्ञान होना चाहिए। अगर आप seo की मदद से सर्च इंजन से ऑर्गेनिक KEYWORD पर ट्रैफिक प्राप्त कर सकते हैं। फिर आपकी कार्य सेवाओं और उत्पादों को खोज इंजनों की मदद से मुफ्त में बढ़ावा दिया जाएगा। यह केवल Seo के साथ ही संभव है।

4 सर्च इंजन मार्केटिंग (search engine marketing) - SEM एक पेड ऑप्शन है। इसमें, उत्पादों और सेवाओं की दृश्यता बढ़ाने के लिए, हम Google, bing और yahoo जैसे खोज इंजनों में विज्ञापन देते हैं। जिससे उत्पादों या सेवाओं का
Revenue बन जाता है।

5 वीडियो मार्केटिंग (video marketing) - YouTube आज के समय में सबसे बड़ा वीडियो प्लेटफॉर्म है। यहां आप अपने उत्पाद और सेवाओं के लिए वीडियो मार्केटिंग कर सकते हैं। YouTube और अन्य वीडियो प्लेटफ़ॉर्म आपको मुफ्त और सशुल्क सेवाएँ प्रदान करते हैं। अगर आपने youtube seo अच्छी तरह से किया है और आपके पास YouTube पर अच्छे views और ग्राहक हैं। तब आप YouTube से पैसे कमा सकते हैं।

6 ईमेल मार्केटिंग (email marketing) - अगर आप डिजिटल मार्केटिंग करना चाहते हैं। फिर ईमेल मार्केटिंग के बारे में जानना बहुत जरूरी है। क्योंकि ईमेल विपणन आपके नए उत्पाद और सेवाओं पर ईमेल के माध्यम से ऑनलाइन और ऑफलाइन ट्रैफ़िक लाने में मदद करता है। अगर आपके Gmail अकाउंट में e-mail id की लंबी लिस्ट है। तब आपके लिए यह काम करना और भी आसान हो जाता है।

7 ब्लॉगिंग (blogging) - डिजिटल मार्केटिंग के काम में BLOG का ज्ञान भी बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि यह आपके उत्पादों और सेवाओं को सबसे अधिक बढ़ावा देती है। यदि आप इन 20 ब्लॉगिंग प्लेटफार्मों में से एक पर ब्लॉग बनाते हैं और उसका SEO ठीक से करते हैं। फिर आप उस पर कुछ Seo फ्रेंडली लेख लिखते हैं। जिसके साथ आपको मुफ्त ऑनलाइन ब्लॉग ट्रैफ़िक मिलेगा। जिससे आपका कंटेंट लोगों तक जल्द पहुंचे।

8 पेड प्रमोशन (paid parmotion) - आपको विज्ञापन बनाने और चलाने के लिए आना चाहिए। किसी भी सेवाओं और उत्पादों के प्रचार के लिए, शुरुआती कंपनियों को भुगतान किए गए प्रचार का सहारा लेना पड़ता है।

9 गेस्ट पोस्टिंग (guest posting) - गेस्ट पोस्ट सबसे अच्छा तरीका है। हमारी सेवाओं और उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए। यह आपकी सेवाओं और उत्पादों के लिए लाखों का ट्रैफ़िक ला सकती है। डिजिटल मार्केटिंग में गेस्ट पोस्टिंग बहुत जरूरी है। इसके लिए, आप अपनी सेवाओं और उत्पादों से संबंधित इंटरनेट पर वेबसाइट खोज सकते हैं। और आप उन्हें गेस्ट पोस्ट के बारे में ईमेल कर सकते हैं।

10 इंटरनेट मैसज (internet massage) - इसमें ईमेल संदेश, मोबाइल संदेश और पुश वेब संदेशों के लिए सभी प्रकार के संदेश और सूचनाएं शामिल हैं। आपको Digital Marketing के लिए इन massages के बारे में जानना होगा और यह भी जानना जरूरी है कि इन्हें कैसे प्रबंधित किया जाए।

11 सोशल मीडिया (social media) - सोशल मीडिया के माध्यम से कई लोग दुनिया में लोकप्रिय हो गए हैं। जिसमें Facebook, Twitter और LinkedIn जैसे प्लेटफॉर्म शामिल हैं। आपको इन वेबसाइट और ऐप पर ऑनलाइन होना भी आवश्यक है। आपको अपनी सामग्री को इन सोशल मीडिया ऐप्स और वेबसाइटों पर साझा करना होगा।

12 बैकलिंक (backlink) - आपको बैकलिंक के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि सही तरीके से बैकलिंक्स बनाना बहुत जरूरी है। चाहे वह किसी गेस्ट पोस्ट के माध्यम से बनाया गया हो। चाहे सोशल मीडिया के माध्यम से बनाना हो और चाहे किसी अन्य तरीके से बनाना हो। आपको उच्च गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स बनाने की तकनीक पता होनी चाहिए।

यदि हम किसी भी उत्पाद और सेवाओं को बढ़ावा देने के लिए इन सभी तरीकों को करते हैं। फिर हमारे उत्पादों और सेवाओं का बढ़ावा होना तय है। ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग के बाद ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग दूसरे तरीके की है। इसमें बहुत सी चीजें आती हैं। जिस पर हमें काम करना है। आपने किसी दुकान, सड़क और टेलीविजन में ऐसे उत्पादों और सेवाओं का प्रचार भी देखा होगा। आइए जानते हैं;

ऑफ-लाइन (Off-line) डिजिटल मार्केटिंग कैसे करें

यह सभी प्लेटफार्म और तरीके मुफ्त नहीं है। लेकिन अगर आप उनके साथ काम करना चाहते हैं। तब आप लक्ष्य यातायात प्राप्त कर सकते हैं। मैं पहला नंबर दे रहा हूं।

1 मोबाइल मैसज (mobile massages) - आपको मोबाइल नंबरों की एक लंबी सूची एकत्र करनी होगी। आप किसी कंपनी के माध्यम से मोबाइल संदेश भी खरीद सकते हैं।

2 टेलीविजन विज्ञापन (television ads) - अपने उत्पादों और सेवाओं के प्रचार के लिए। आप किसी भी टीवी चैनल कंपनी से संपर्क कर सकते हैं। जिसमें आपको विज्ञापन के लिए कंपनी को पैसे देने होंगे और वह कंपनी आपके उत्पादों और सेवाओं को अपने TV CHANNEL पर दिखाएगी।

3 मोबाइल कॉल (mobile call) - इसमें भी आपको मोबाइल नंबरों की सूची एकत्र करनी होगी। जिसमें उन सभी मोबाइल नंबरों को वॉयस कॉल के जरिए अपने उत्पादों और सेवाओं के प्रचार के लिए बताया जाएगा।

4 एफएम रेडियो (FM radio) - पुराने समय में प्रचार के लिए Fm रेडियो एक प्रसिद्ध तकनीक हुआ करती थी। सरकार अपने स्कीम और नियमों को संप्रेषित करने के लिए Fm रेडियो का भी उपयोग करती है।

5 ई-बिल बुक (e-bill book) - ई-बिल हमे दैनिक जीवन में एक मॉल, दुकान और स्टोर पर जाकर खरीदारी करके हासिल होता है और हमें ई-बिल के रूप में एक पर्ची दी जाती है। जिसके ऊपर हमारे खरीदे गए समन का भुगतान लिखा है और इसके साथ कई कंपनियों और उत्पादों का विज्ञापन भी है। ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग में प्रमोशन के लिए इस ई-बिल की बहुत अच्छी भूमिका है।

6 समाचार पत्र (newspaper) - आज के समय में, बहुत से लोग दैनिक समाचार पत्र पढ़ते हैं। यहां डिजिटल मार्केटिंग करना बहुत फायदेमंद है। यह सशुल्क विकल्पों में मौजूद है। लेकिन समाचार पत्र आपके उत्पादों और सेवाओं को बढ़ावा देने का सबसे प्रभावी तरीका हो सकता है।

7 पत्रिकाएँ (magazine) - बहुत से लोग। जिन्हें पत्रिका खरीदना पसंद है। क्योंकि पत्रिकाएं एक तरह की किताब हैं। जिसमें बहुत सी जानकारी लिखी होती है। यदि आपके उत्पाद और सेवाएँ इसमें विज्ञापित हो जाती हैं। फिर 3-4 वर्षों तक पत्रिका के माध्यम से आपके उत्पादों और सेवाओं का नाम किसी के घर में रहेगा।

8 बैनर (banner) - बैनर आज के समय में सबसे लोकप्रिय ऑफ-लाइन मंच बन गए हैं। बैनर किसी भी सड़क, दीवार, सड़क और अन्य स्थानों पर पाए जा सकते हैं। जिन पर उत्पादों, गानों, फिल्मों और किसी अन्य कंपनी के उत्पादों का प्रचार होता है। बैनर विज्ञापन से आपको बहुत सारे लाभ हो सकते हैं। क्योंकि रास्ते में, लोग उस पर नज़र रखते हैं और वह आपके उत्पादों और सेवाओं के बारे में सोचता है।

डिजिटल मार्केटिंग कैसे करें

Digital Marketing कोई एक काम नहीं है। यह कई कामों से बना है। इसके अलावा, डिजिटल मार्केटिंग करने के कई तरीके हैं। लेकिन आप क्या तरीका अपनाते हैं। यह आप पर निर्भर करता है। मैं आपको यहां कदम दर कदम बता रहा हूं। आपको किस कौशल पर काम करना है। एक अच्छा डिजिटल मार्केटर बनने के लिए ।

जैसे, डिजिटल मार्केटिंग करने का कोई एक तरीका नहीं है। यहां तक ​  मुझे ज्ञान है। मैं यहां उन सभी बिंदुओं को जोड़ूंगा। जो हमारे डिजिटल मार्केटिंग के तरीकों को एक अच्छा रास्ता दे सकते है।
Digital Marketing शुरू करने के लिए। आपको इन 2 चीजों की जरूरत सबसे पहले होगी।
  • डिजिटल मार्केटिंग करने के लिए हमारे पास लैपटॉप और कंप्यूटर होना आवश्यक है।
  • जिसमें हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन होना चाहिए।

Digital Marketing Skills in Hindi

अगर आप Digital Marketing बनना चाहते हैं, तो आपके अंदर ये सभी skills होना बहुत जरूरी है।
यदि आपके पास ये सभी कौशल हैं तो आपके लिए डिजिटल मार्केटिंग करना आसान हो जाता है। लेकिन अगर आप इन कौशलों से वाकिफ नहीं हैं। फिर आप इन कौशलों को सिखाने पर काम कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग के फायदे

यदि आप अच्छी सेवाएं और उत्पाद प्रदान करते हैं। फिर आप डिजिटल मार्केटिंग करते फिर इस तरह लाभ देख सकते हैं।
  • अपने उपयोगकर्ता के साथ एक अच्छा संबंध बनाता है
  • आपका रिश्ता दुनिया में बनता है
  • आप उपयोगकर्ता को जल्द से जल्द सेवा और उत्पाद वितरित कर सकते हैं
  • आप ब्लॉग बनाकर पैसा कमा सकते हैं
  • आप वीडियो मार्केटिंग से पैसा कमा सकते हैं
  • आप फोटो और ग्राफिक्स के साथ डिजिटल मार्केटिंग कर सकते हैं
  • दुनिया में आपकी सेवाएं और उत्पाद बढ़ते हैं
  • आप एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं

डिजिटल मार्केटिंग सैलरी

अगर हम एक आईटी (IT) कंपनी में काम करने के लिए बात करते हैं, तो आपको 4-6 लाख का वार्षिक पैकेज मिलता है। बाकी आपके अनुभव पर निर्भर करता है।
अगर हम अपने खुद के व्यवसाय के बारे में बात करते हैं, तो आप 2-3 लाख महीने तक की आय कर सकते हैं। डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में।

Related Posts